Monday, 23 April 2018

अखिलेश यादव का ऐलान, छत्‍तीसगढ़ की सभी 90 सीटों पर चुनाव लड़ेगी सपा

रायपुर: साल 2018 में छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव कमर कस ली है. अखिलेश ने इस चुनाव में सभी 90 सीटों पर समाजवादी पार्टी के लड़ने का ऐलान किया है. पार्टी के छत्तीसगढ़ प्रदेश अध्यक्ष तनवीर अहमद सोमवार को लखनऊ में अखिलेश यादव से मिले. इस मीटिंग के दौरान अखिलेश ने तनवीर को कहा कि सभी सीटों में चुनाव की तैयारी कर लो और मैं खुद छत्तीसगढ़ में प्रत्याशियों का चयन करूंगा. बता दें कि सील के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए अखिलेश की टीम जल्द ही प्रदेश के 27 जिलों का दौरा करेगी. इस दौरे के बाद एक रिपोर्ट तैयार की जाएगी और फिर प्रत्याशियों को फाइनल किया जाएगा. छत्तीसगढ़ प्रदेश अध्यक्ष तनवीर अहमद अपने साथ 12 प्रत्याशियों की सूची लेकर गए थे.  लेकिन राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अभी उसे फाइनल नहीं किया.

मीटिंग के बाद तनवीर अहमद ने बताया कि वे सभी सीटों से प्रत्याशी उतारने के लिए पार्टी को संगठन स्तर पर मजबूत कर रहे हैं. 27 में से 13 जिलों में नए अध्यक्षों की नियुक्ति की गई है और बाकी के 14 जिलों में अध्यक्ष पद के लिए कार्यकर्ताओं की तलाश जारी है. अखिलेश ने छत्तीसगढ़ प्रभारी राजपाल कश्यप और सुनील सिंह को तत्काल 27 पूर्व सांसदों और पूर्व विधायकों की सूची बनाने का निर्देश दिया. प्रदेश अध्यक्ष ने अखिलेश के सामने दुर्ग या रायपुर दौरे का प्रस्ताव रखा.

अखिलेश कहा है कि जब उनकी टीम दौरा पूरा करके रिपोर्ट उन्हें दे देगी, उसके बाद वे छत्तीसगढ़ आएंगे. इसी के साथ अखिलेश कार्यकर्ता सम्मेलन में भी शामिल होंगे और पदाधिकारियों की बैठक लेंगे. अखिलेश ने प्रदेश प्रभारी को रायपुर में जगह देखकर प्रदेश कार्यालय बनाने का भी निर्देश दिया है.


Source:-Zeenews

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

मोदी सरकार के मंत्री को फोन पर मिली धमकी, 5 दिन पहले इनकी गाड़ी को टक्कर मारने की हुई थी कोशिश

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री और कर्नाटक में बीजेपी के बड़े नेता अनंत कुमार हेगड़े को किसी ने फोन कर धमकी दी है. इसके बाद केंद्रीय मंत्री की शिकायत पर सिरसी न्यू मार्केट थाने (Sirsi New Market Police station) में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. पुलिस ने IPC के सेक्शन 504 और 507 के तहत मुकदमा दर्ज किया है. इसी साल 18 अप्रैल को यानी 5 दिन पहले ही अनंत कुमार हेगड़े की कार को ट्रक से टक्कर मारने की कोशिश की गई थी. हालांकि वे बाल-बाल बच गए थे.

केंद्रीय मंत्री हेगड़े ने आरोप लगाया था कि उनके काफिले की कार को जानबूझकर टक्कर मारने की कोशिश की गई है. साथ ही उन्होंने इसके पीछे बड़ी साजिश की आशंका जताई है. इस घटना के बाद अनंत कुमार हेगड़े के काफिले में मौजूद लोगों ने ट्रक ड्राइवर को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया. पूछताछ में ट्रक ड्राइवर ने अपनी पहचान नासिर बताया है.

मालूम हो कि कर्नाटक में विधानसभा चुनाव को लेकर आचार संहिता लागू है. सभी राजनीतिक दल इन दिनों चुनाव प्रचार में जोर-शोर से लगे हैं. अनंत कुमार हेगड़े भी इन दिनों चुनाव प्रचार में जुटे हैं. पिछले साल उन्हें मोदी सरकार में मंत्री बनाया गया था. अनंत कुमार हेगड़े कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ संसदीय क्षेत्र से पांचवीं बार चुनकर लोकसभा पहुंचे हैं और राजनीति के साथ ही कोरियाई मार्शल आर्ट ताइक्वांडो में भी सिद्धहस्त हैं. ग्रामीण विकास में गहरी दिलचस्पी रखने वाले हेगड़े इस दिशा में काम करने वाले गैर सरकारी संगठन 'कदंबा' के संस्थापक अध्यक्ष भी हैं. 'कदंबा' ग्रामीण विकास, ग्रामीण स्वास्थ्य, एसएचजी, ग्रामीण विपणन और अन्य ग्रामीण कल्याण के क्षेत्र में काम करती है.

Source:-Zeenews

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

Saturday, 21 April 2018

लोगों में घट रहा है IPL का क्रेज, 11वें सीजन के पहले हफ्ते की व्यूअरशिप में आई 20% की कमी

मुंबई: दैनिक भास्कर के शनिवार के अंक में पहले पन्ने पर प्रमुखता के साथ छापी गई एक खबर दावा करती है कि आईपीएल-11 के पहले हफ्ते के बाद व्यूअरशिप में कमी आई है. खबर में दावा किया गया है कि सीजन के पहले हफ्ते में 24.60 करोड़ दर्शक मिले जबकि पिछले सीजन में यह संख्या 25.50 करोड़ थी. यानी, इस बार शुरुआती 8 मैचों में 90 लाख दर्शक कम हुए. खबर में सोनी नेटवर्क के स्पोर्ट्स और डिस्ट्रीब्यूशन प्रेसिडेंट राजेश कौल के हवाले से बताया गया है कि हिंदी भाषी इलाकों और गुजरात में व्यूअरशिप काफी घटी है. इन क्षेत्रों में 19.5% की गिरावट आई है. खबर में बताया गया है कि आईपीएल-10 के शुरुआती हफ्ते में यहां 17.83 करोड़ दर्शक थे जबकि इस बार 14.35 करोड़ हैं. खबर के मुताबिक यह पहली बार है, जब स्टार इंडिया के चैनल पर आईपीएल का टेलीकास्ट हो रहा है. स्टार ने 16,347.5 करोड़ रुपए में ब्रॉडकास्टिंग राइट्स खरीदे थे. स्टार दस चैनल, छह भाषाओं और हॉटस्टार पर लाइव स्ट्रीमिंग कर रहा है.

नई दिल्ली: हिन्दुस्तान ने अपने शनिवार के अंक में दिल्ली-एनसीआर के बदलते मौसम से संबंधित खबर को प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया है. खबर में बताया गया है कि शुक्रवार सुबह पश्चिमी विक्षोभ के चलते कई जगहों पर हल्की बूंदाबांदी हुई. वहीं, कई इलाकों में दिन भर तेज हवाएं चलीं. खबर में मौसम वैज्ञानिकों के हवाले से बताया गया है कि अगले तीन दिन 25 से 30 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं. खबर के मुताबिक 25 अप्रैल को अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस के करीब रह सकता है. खबर में मौसम वैज्ञानिक कुलदीप श्रीवास्तव के हवाले से बताया गया है कि उत्तर पश्चिमी हवाओं के प्रभाव के चलते हवा में आद्रता का स्तर घटने से तीन दिनों में गर्मी बढ़ेगी. 23 अप्रैल से अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक रह सकता है. खबर में यह भी बताया गया है कि 26 अप्रैल से एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है. इसके चलते 25 व 26 अप्रैल को दिल्ली व आसपास के कुछ इलाकों में तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश हो सकती है.

सूरत: नवभारत टाइम्स के मुंबई संस्करण में शनिवार को प्रकाशित एक खबर दावा करती है कि सूरत में 11 साल की मासूम के साथ बलात्कार और उसके बाद की गई हत्या मामले में अहमदाबाद अपराध शाखा के हाथ बड़े सुराग लगे हैं. खबर में बताया गया है कि वारदात को अंजाम देने के बाद बच्ची को जिस गाड़ी में लाकर सूरत के क्रिकेट ग्राउंड की झाड़ियों में फेंका गया था, उस गाड़ी की पहचान कर ली गई है. खबर के मुताबिक पुलिस को शक है कि बच्ची के किसी रिश्तेदार ने ही घटना को अंजाम दिया है और उसे जल्द ही पकड़ा जा सकता है. खबर में बताया गया है कि बच्ची की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में भयानक क्रूरता किए जाने की बात सामने आई है. खबर के मुताबिक उस मासूम के शरीर पर ब्लेड से घाव किए गए, जानवरों की तरह बलात्कार किया गया और प्राइवेट पार्ट्स में गर्भाशय तक घाव किए गए. हैवानियत जब यहां तक भी शांत नहीं हुई, तो गला दबाकर आखिरकार उसकी जान ले ली गई.

नई दिल्ली: दैनिक जागरण के पहले पन्ने पर प्रकाशित एक खबर के मुताबिक सेना के शीर्ष कमांडरों की छह दिनों तक चलने वाली बैठक मे भावी रूप रेखा निर्धारित की गई है. खबर में बताया गया है कि शीर्ष कमांडर्स की कांफ्रेंस में सेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने कश्मीर घाटी में युवाओं के भटकाव पर विशेष चिंता जाहिर की है. खबर में बताया गया है कि सेना ने घाटी के अति उग्रवादी युवाओं को भटकने से रोकने के सामूहिक प्रयासों पर जोर देने की बात कही है और उनको मुख्यधारा में लाने की कोशिशों पर भी पुख्ता बल देने को कहा है. खबर में डायरेक्टर जनरल स्टाफ ड्यूटी ले. जनरल एके शर्मा के हवाले से बताया गया है कि मौजूदा वक्त में इन युवाओं को हिंसा व बंदूक के जोर पर मनमानी करने से रोकना बहुत जरूरी है.

Source:-Zeenews

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

Wednesday, 11 April 2018

कठुआ केस: दो समुदायों को लड़ाने के लिए खेला वहशियत का खेल?

कठुआ गैंगरेप और मर्डर केस में दाखिल आरोपपत्र से इस बात का खुलासा हुआ है कि बकरवाल समुदाय की बच्ची का अपहरण, गैंगरेप और हत्या इलाके से इस अल्पसंख्यक समुदाय को हटाने की एक सोची समझी साजिश का हिस्सा थी. इसमें कठुआ स्थित रासना गांव में देवीस्थान मंदिर के सेवादार को मुख्य साजिशकर्ता बताया गया है.

इसके बाद उसने परवेश से योजना साझा कर उसे अंजाम देने में मदद मांगी, जो राम और खजुरिया ने बनाई थी. जंगोत्रा अपने चचेरे भाई का फोन आने के बाद मेरठ से रासना पहुंचा और किशोर और परवेश के साथ बच्ची से बलात्कार किया, जिसे नशीली दवा दी गई थी. राम के निर्देश पर बच्ची को मंदिर से हटाया गया. उसे खत्म करने के लिए पास के जंगल में ले गए.

जांच के मुताबिक, खजुरिया भी मौके पर पहुंचा और उनसे इंतजार करने को कहा, क्योंकि वह बच्ची की हत्या से पहले उसके साथ फिर से बलात्कार करना चाहता था. बच्ची से एक बार फिर सामूहिक बलात्कार किया गया और बाद में किशोर ने उसकी हत्या कर दी. इसमें कहा गया है कि किशोर ने बच्ची के सिर पर एक पत्थर से दो बार प्रहार किया.

जांच में इस बारे में ब्योरा दिया गया है कि आरोपी पुलिस अधिकारियों ने मृतका के कपड़े फारेंसिक प्रयोगशाला में भेजने से पहले उसे धोकर किस तरह से अहम सबूत नष्ट किए और मौके पर झूठे साक्ष्य बनाए. आरोपी राम रासना, कूटा और धमयाल इलाके में बकरवाल समुदाय के बसने के खिलाफ था. वह हमेशा ही अपने समुदाय के लोगों को उनके खिलाफ करता था.

Source:-Aajtak

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

Monday, 9 April 2018

अंतरिक्ष में खुलेगा पहला लग्जरी होटल! जानें- क्या होगी खासियत

अंतरिक्ष में अगर आपको रहने का मौका मिल जाए तो कैसा लगेगा? जल्द ही अंतरिक्ष में लग्जरी होटल बनाने की तैयारी चल रही है. उम्मीद जताई जा रही है साल 2022 ये होटल बनकर तैयार हो जाएगा और इसमें लोग ठहर सकेंगे. जानें अंतरिक्ष के पहले लग्जरी होटल से जुड़ी ये खास बातें...

- इस होटल का नाम 'औरोरा स्टेशन' होगा. इसे बनाने की धोषणा अमेरिका के स्पेस टेक्नोलॉजी स्टार्ट-अप 'ओरियन स्पेन' ने की है.

- स्पेस में बनने वाले पहले होटल की लंबाई 43.5 फीट और चौड़ाई 14.01 फीट होगी. जिस जगह पर इसका प्लेटफॉर्म बनेगा, वह जगह धरती की कक्षा (Orbit) से 200 मील (321 किलोमीटर) दूर स्थित है.

अंतरिक्ष में दिखी एक रहस्यमयी चीज, वैज्ञानिक भी हैरान

- ये देखने में एक प्राइवेट जेट के आकार का होगा. जो 90 मिनट में एक कक्षा की दूरी पूरी कर सकता है.

- बता दें, इस होटल में सिर्फ दो क्रू मेंबर और चार यात्रियों की ही जगह होगी.

- वहीं इस होटल में पहुंचने और फिर वापस आने में करीब 12 दिन का समय लगेगा. 

- इस होटल में समय बिताने के लिए आपको 9.5 मिलियन यानी करीब 61 करोड़ रुपए खर्च करने होंगे.

स्पेस से रात में ऐसा दिखता है INDIA, देखें पूरी दुनिया की PHOTOS

- अंतरिक्ष के इस लग्जरी होटल में समय बिताने के लिए आपको एडवांस  51 लाख रुपए की एडवांस बुकिंग फीस के तौर पर देनी होगी.
- हॉलीवुड के सेलिब्रटीज टॉम हैंक्स, लियोनार्डो डिकैप्रियो और कैटी पेरी इस लग्जरी होटल की एडवांस बुकिंग करवा चुके हैं.

Source:-Aajtak

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

Sunday, 8 April 2018

दिल्ली मेट्रो: सिर्फ 50 मिनट में पहुंच जाएंगे नोएडा से गुरुग्राम

दिल्ली मेट्रो के जनकपुरी पश्चिम और कालकाजी मंदिर रूट (मैजेंटा लाइन) के पूरी तरह शुरू हो जाने पर लोग एक सबसे लंबे अंडरग्राउंड रूट में ट्रैवल कर सकेंगे. कालकाजी मंदिर से वसंत विहार तक की दूरी 10.16 किमी है और इसे फेज-3 मेट्रो का लबसे लंबा अंडरग्राउंड रूट कहा जा रहा है. आइए जानते हैं कब से शुरू होगा ये रूट...

आपको बता दें कि मैजेंटा लाइन 25.6 किमी लंबी है और इसमें 10 स्टेशन है. एचटी की रिपोर्ट के मुताबिक, मैजेंटा लाइन 15 अप्रैल के आसपास पूरी तरह शुरू हो जाएगी. बोटनिकल गार्डेन से कालकाजी मंदिर तक के सेक्शन की सर्विस पहले ही शुरू हो चुकी है.

गुरुग्राम जाने के लिए यात्रियों को मैजेंटा लाइन से हौज खास स्टेशन पर चेंज करना होगा. इससे आधे घंटे का वक्त बचेगा और दूरी सिर्फ 50 मिनट में तय हो जाएगी.

मैजेंटा लाइन का काम पहले ही पूरा हो चुका है. लेकिन डीएमआरसी सेफ्टी क्लियरेंस का इंतजार कर रहा है.

मैजेंटा लाइन पूरी तरह शुरू हो जाने के बाद नोएडा सीधे एयरपोर्ट से भी कनेक्ट हो जाएगा. यात्री सिर्फ 40 मिनट में नोएडा से एयरपोर्ट पहुंच सकेंगे.

Source:-Aajtak

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

Saturday, 7 April 2018

रेलवे रिकॉर्ड में नेत्रहीन शिवराज के नए मंत्री को नर्मदा ने दी रोशनी!

पांच संतों को राज्यमंत्री का दर्जा देने के बाद मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार विवादों में है. सबसे हैरान करने वाली बात तो यह कि एक दिन पहले राज्यमंत्री के दर्जे से नवाजे गए बाबा नर्मदानंद रेलवे के रिकॉर्ड में दृष्टिहीन हैं. यही नहीं, राशन कार्ड की गरीबी रेखा की सूची में भी दर्ज हैं.

हिंदी अखबार दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, जब बाबा से नेत्रहीन होने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि,  "मेरी आंखें 89 फीसदी खराब थीं. 2014 तक दृष्टिहीन होकर रियायती टिकट पर यात्रा करता था, लेकिन नंगे पांव नर्मदा परिक्रमा की तो आंखों की रोशनी लौट आई."

बाबा नर्मदानंद का कहना है कि वे अब रेलवे की सुविधा नहीं लेते हैं. 2014 तक दृष्टिहीन होकर उन्होंने रियायती टिकट पर यात्रा की थी.

बता दें कि फिलहाल बाबा नर्मदानंद नर्मदा की 3300 किमी की परिक्रमा कर रहे हैं. 26 मार्च को ओंकारेश्वर से शुरू हुई यह यात्रा 11 अप्रैल को ओंकारेश्वर में ही खत्म होगी.

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश सरकार ने नर्मदानंदजी, हरिहरानंदजी, कंप्यूटर बाबाजी, भय्यूजी महाराज और योगेंद्र महंतजी को राज्यमंत्री का दर्जा दिया है.

Source:-Aajtak

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

Thursday, 5 April 2018

Zee जानकारी: मणिपुर की बेटी मीराबाई चानू ने जीता गोल्ड, बढ़ाया देश का मान

क्या आपको पता है कि आज Commonwealth Games में मणिपुर की मीराबाई चानू ने भारत के लिए गोल्ड मेडल जीता है और कर्नाटक के P. Gururaja ने सिल्वर मेडल जीता है? शायद आपको इस बारे में ज़्यादा जानकारी ना हो, क्योंकि आज हिंदी फिल्मों के भाई यानी सलमान ख़ान ने ख़बरों की दुनिया की सारी हेडलाइन्स जीत ली थीं. आज हर कोई इस बात पर चर्चा कर रहा है कि सलमान ख़ान को 5 साल की सज़ा क्यों हुई ? लेकिन आपको ऐसे लोग बहुत कम मिलेंगे जो आज भारत के लिए मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों के बारे में बात कर रहे होंगे.

ये लम्हा हारने से भी बुरा होता है और इससे खिलाड़ियों का मनोबल पूरी तरह टूट जाता है. मीराबाई चानू के साथ ऐसा हो चुका है. वर्ष 2016 के Rio Olympics में मीराबाई चानू के नाम के आगे लिखा गया था 'Did Not Finish'...यानी वो अपने Weights नहीं उठा पाईं. इस घटना की वजह से Rio Olympics के बाद वो Depression में चली गईं थीं. उस असफलता के बाद, एक वक्त ऐसा भी आया था, जब उन्होंने Weightlifting छोड़ने का मन बना लिया था. लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और पिछले साल World Weightlifting Championships में उन्होंने ज़बरदस्त वापसी की.

उनकी इच्छाशक्ति का एक उदाहरण ये भी है, कि उन्होंने 2017 में 48 किलोग्राम के अपने वज़न से क़रीब चार गुना ज़्यादा वज़न यानी 194 किलोग्राम का भार उठाकर Gold Medal जीता था. 48 किलो का वज़न बनाए रखने के लिए मीराबाई चानू ने खाना तक नहीं खाया था. और इसकी तैयारी के लिए वो अपनी सगी बहन की शादी में भी नहीं गई थीं. इसी इच्छाशक्ति की वजह से ही मीराबाई चानू को आज कामयाबी मिली है.

इस वक्त हमारे देश में लोगों की नज़रें जोधपुर जेल पर टिकी हुई हैं. सलमान ख़ान किस बैरक में हैं, उनके साथ कितने कैदी हैं ? उनकी हालत कैसी है? हर कोई इन्हीं सवालों के जवाब ढूंढ रहा है. और इस माहौल में ज़ी न्यूज़ की टीम ने गोल्ड मेडल जीतने वाली मीराबाई चानू से बातचीत की है. उनकी बातें आपको भी सुननी चाहिए.

Source:-Zee News

View More About Our Services:-Mobile Database number Provider and Digital Marketing 

Wednesday, 4 April 2018

यूपी में अब मनमानी फीस नहीं वसूल सकेंगे स्‍कूल, योगी सरकार ने इस प्रस्‍ताव को दी मंजूरी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई कैबिनेट की बैठक में प्राइवेट स्कूलों की मनमानी फीस वसूली को लेकर एक अहम प्रस्ताव को मंजूरी दी गई. सरकार का दावा है कि इस विधेयक के अमल में आने के बाद निजी स्कूलों की मनमानी पर रोक लगाने में सफलता मिलेगी. उप्र सरकार के कैबिनेट मंत्री और सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा और उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने पत्रकारों को इसकी जानकारी दी. 

शर्मा ने बताया कि विद्यालय के शुल्क लेने की प्रक्रिया पारदर्शी होगी और कोई भी स्कूल सिर्फ चार तरह से ही शुल्क ले सकेंगे, जिसमें विवरण पुस्तिका शुल्क, प्रवेश शुल्क, परीक्षा शुल्क और संयुक्त वार्षिक शुल्क शामिल है.

उपमुख्यमंत्री के मुताबिक, अगर कोई वैकल्पिक सुविधा जैसे वाहन, होस्टल, भ्रमण व कैंटीन की सुविधा लेता है, तभी शुल्क देना होगा. हर तरह के शुल्क की रसीद देना स्कूलों के लिए अनिवार्य होगा. उन्होंने बताया कि इन नियमों के दायरे में सीबीएससी और आईसीएससी बोर्ड द्वारा संचालित विद्यालयों को भी लिया गया है. साथ ही कोई भी स्कूल बच्चों की ड्रेस में पांच वर्ष तक बदलाव नहीं कर सकेगा और न ही जूते-मोजे किसी दुकान से लेने के लिए बाध्य कर सकेगा.

शर्मा ने बताया कि निजी विद्यालय में किसी भी कमर्शियल कार्य से जो आय होगी, उसे विद्यालय की आय माना जाएगा. सरकार के इन फैसलों से अभिभावकों को राहत मिलने की उम्मीद है. वहीं सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने बताया कि ऊर्जा विभाग की परीक्षा नियमावाली में संशोधन को लेकर एक प्रस्ताव को मंजूरी दी गई. प्रस्ताव के मुताबिक, सहायक अभियंता की परीक्षा में अब साक्षात्कार 250 अंकों की बजाय केवल 100 अंकों का होगा, जबकि लिखित परीक्षा 750 अंकों का ही होगा. 

Featured post

अखिलेश यादव का ऐलान, छत्‍तीसगढ़ की सभी 90 सीटों पर चुनाव लड़ेगी सपा

रायपुर: साल 2018 में छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव कमर कस ली है. अखिलेश ने इस ...